करोड़ों रुपए की कीमत से बना जन सुविधा केंद्र मोटरसाइकिल स्टैंड में तब्दील तीर्थयात्री भटक रहे हैं शौच आदि के लिए

Total Views : 255
Zoom In Zoom Out Read Later Print

विश्व प्रसिद्ध पवित्र तीर्थ स्थल गोवर्धन धाम आषाढ़ पूर्णिमा मुड़िया मेला अपने यौवन पर प्रारंभ हो गया है प्रशासनिक व्यवस्था राम भरोसे चल रही हैं

मानसी गंगा इस क्षेत्र क्षेत्र में उत्तर प्रदेश राज्य विकास परिषद एवं अन्य मदों से श्रद्धालु भक्तों की व्यवस्था जन सुविधा उपलब्ध कराने हेतु करोड़ों की कीमत का जन सुविधा केंद्र का निर्माण मानसी गंगा के पास में किया गया है जो कि शो पीस बना हुआ है छाया चित्रों के माध्यम से बताया जा रहा है कि मुख्य दरवाजे पर किस प्रकार से ताले लटके हुए हैं मेला प्रशासन धृतराष्ट्र बनकर मिला की व्यवस्थाओं में जाने किस कदर से लगा हुआ है पता ही नहीं चल रहा है क्षेत्रीय नागरिकों में अव्यवस्था के कारण आक्रोश पनप रहा है सुबह के लगभग मानसी गंगा में एक व्यक्ति प्रशासनिक अव्यवस्था के कारण चोटिल हो गया दूसरे चित्र के माध्यम से आपको ज्ञात होगा कि उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद प्रशासनिक व्यवस्था मुड़िया मेला प्रभारी किस प्रकार से मेला के साथ में खिलवाड़ कर रहे हैं तीर्थयात्री दर-दर के लिए ठोकर खा रहे हैं शौच आदि की व्यवस्था नहीं की गई है स्नान के लिए दर-दर भटक रहे हैं क्षेत्रीय नागरिक मनोज पाठक स्वामी पवन शर्मा ने बताया है कि प्रशासन स्थानीय व्यक्तियों का उत्पीड़न कर रहा है जबकि यात्रियों की व्यवस्था में किसी प्रकार की व्यवस्था नहीं की जा रही है भटकते हुए डोल रहे हैं करोड़ों रुपए सुविधाओं के नाम पर बहा दिया गया है जो 4 दिन की बरसात में बह जाएगा और फर्जी कागज लगाकर माल को डकार जाएंगे स्थानीय नागरिकों ने बताया है लगभग 20 वर्ष से मेला दिन प्रतिदिन करोड़ों की संख्या में श्रद्धालु भक्त आते हैं लेकिन प्रशासन के हाथ पांव फूल जाते हैं कोई भी सुविधा उपलब्ध नहीं करा पाते हैं मथुरा गोवर्धन मार्ग संपूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त है कभी भी संगीन घटना घटित सकती है

महिलाओं की अव्यवस्था को देखते हुए श्री गोवर्धन पीठ के आचार्य गणों द्वारा मेले का बहिष्कार कर दिया है अब देखना यह है कि 10 जुलाई से होने वाले मेला सकुशल संपन्न हो पाता है या नहीं

See More

Latest Photos